blogid : 7002 postid : 363

Virender Sehwag Profile: आधुनिक क्रिकेट का ‘जेन मास्टर’

Posted On: 20 Oct, 2012 sports mail में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Virender Sehwagजब कोई खिलाड़ी खेल के किसी ऐसे छोर पर पहुंच जाता है जहां पर केवल उसकी मौजूदगी ही टीम को मजबूती प्रदान करती है तथा विरोधी टीम में एक तरह का खौफ पैदा करती है तो समझा जा सकता है कि वह खिलाड़ी अन्य खिलाड़ियों की तुलना में सामान्य नहीं हो सकता. हम बात कर रहे हैं विश्व में विस्फोटक बल्लेबाज के रूप में अपनी पहचान बना चुके वीरेंदर सहवाग की.


Read: कहीं गलत राह पर तो नहीं अरविंद


वीरेंदर सहवाग का जीवन

आधुनिक क्रिकेट के “ज़ेन मास्टर” के रूप में जाने जाने वाले वीरेंदर सहवाग का जन्म हरियाणा के एक जाट परिवार में 20 अक्टूबर, 1978 में हुआ. सहवाग अपने माता-पिता के चार बच्चों में तीसरी संतान हैं. सहवाग से बड़ी दो बहनें मंजू और अंजू हैं जबकि उनसे छोटे एक भाई हैं जिनका नाम विनोद है. वह बचपन से ही क्रिकेट खेलने के शौकीन थे. उनकी क्रिकेट के प्रति रुचि को देखते हुए उनके पिता ने बैट खरीद कर दिया तब वह सात साल के थे. क्रिकेट के प्रति रुझान के चलते वह शुरू से ही पढ़ाई में ध्यान नहीं दे पा रहे थे. उन्होंने दिल्ली के जामिया मीलिया इस्लामिया कॉलेज से स्नातक किया है. 2004 में सहवाग ने शादी रचाई और उनकी पत्नी हैं आरती सहवाग. इन दोनों के दो पुत्र भी हैं.


Read: Salman Khan in Po Po Song (Video)


वीरेंदर सहवाग का क्रिकेट कॅरियर

नज़फगढ़ के नवाब और भारतीय टीम के इस सितारे ने पहला अंतरराष्ट्रीय मैच 1999 में पाकिस्तान के ख़िलाफ खेला था. शुरुआती दौर में सहवाग ने टीम में जगह बनाने के लिए काफी संघर्ष किया. उन्होंने 2001 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट टीम में दस्तक दिया. टेस्ट में खेली गई बेहतरीन पारियों की बदौलत वह दुनिया के महान टेस्ट खिलाड़ी बने हुए हैं.


वीरेंदर सहवाग का वनडे कॅरियर

मैच रन बैटिंग औसत 100/50 उच्चतम स्कोर
249 8238 35.20 15/38 219

वीरेंदर सहवाग का टेस्ट कॅरियर

मैच रन बैटिंग औसत 100/50 उच्चतम स्कोर
98 8306 50.64 22/32 319

वीरेंदर सहवाग की उपलब्धि

अपने द्वारा खेली गई विस्फोट पारियों के बदौलत वह दुनिया में उन सभी महान खिलाड़ियों से अलग दिखाई देते हैं जिसमें सचिन तेंदुलकर भी शामिल हैं.

1. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में किसी बल्लेबाज द्वारा सबसे तेज गति से बनाए गए तिहरे शतक के 319 रन. इसके लिए उन्होंने मात्र 278 गेंद खेलीं. इसके अलावा वह 207 गेंदों मे सबसे तेज 250 रन बनाने वाले भी पहले खिलाड़ी हैं.

2. सहवाग भारत के एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने टेस्ट मैच में तिहरा शतक जड़ा है. वह ब्रैडमैन और लारा के बाद दुनिया के तीसरे बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दो बार तिहरा शतक बनाने का कीर्तिमान स्थापित किया है.

3. टेस्ट क्रिकेट में प्रारंभिक विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड भी सहवाग के ही नाम है. राहुल द्रविड़ के साथ 410 रन की साझेदारी करके वीरू ने कीर्तिमान बनाया था.

4. एकदिवसीय मैचों में सबसे तेज गति से शतक बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी का रिकॉर्ड भी सहवाग के ही नाम है. उन्होंने मार्च 2010 में हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के ख़िलाफ सिर्फ 60 गेंदों पर शतक बनाया.

5. एकदिवसीय क्रिकेट में सर्वाधिक स्कोर 219 रन है, जो एक विश्व रिकॉर्ड है. उन्होंने यह कीर्तिमान सचिन के 201 रन के रिकॉर्ड को तोड़कर बनाया.


वीरेंदर सहवाग की बल्लेबाजी शैली

मुल्तान के सुल्तान जब विरोधियों के खिलाफ बल्लेबाजी करते हैं तब न तो टीम को देखते हैं और न ही गेंदबाज को. दुनिया के किसी भी कोने का गेंदबाज हो वह अपनी शैली में रहकर बल्लेबाजी करते हैं. उनके सामने चाहे फास्ट बॉलर हो या फिर फिरकीबाज वह अपने विस्फोटक अंदाज में उसको जवाब देते हैं. पिछले 12 साल से वह इसी अंदाज में अपने चाहने वालों का मनोरंजन कर रहे हैं. कभी-कभार उनका यही अंदाज आलोचनाओं का शिकार हो जाता है जब वह अपने बल्ले से टीम के लिए कुछ योगदान नहीं दे पाते. कई बार ऐसा भी हुआ कि वह अपने इसी अंदाज की बदौलत टीम से अंदर-बाहर भी हुए. लेकिन कुछ सुधारों के बाद वह इसी अंदाज में टीम में जबर्दस्त वापसी भी करते हैं. इसी अंदाज की वजह से वह दुनिया में एक अलग बल्लेबाज के रूप में जाने जाते हैं. सहवाग को 2008 में अपने शानदार प्रदर्शन के लिए ‘विजडन लीडिंग क्रिकेटर इन द वर्ल्ड’ से सम्मानित किया गया. सहवाग की महानता ही बताती है कि क्रिकटरों को मिलना वाला यह सम्मान भारत के किसी भी खिलाड़ी को नहीं मिला. उन्हें 2002 में अर्जुन पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया.


फिलहाल वीरेंदर सहवाग अपने बुरे दौर से गुजर रहे हैं. टीम में सीनियर होने के चलते वह बल्ले से योगदान नहीं दे पा रहे हैं जिसके लिए वह जाने जाते हैं. पिछले दिनों उनके और टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बीच खटास की खबरें भी आईं. मामला कप्तानी और टीम में जगह बनाने को लेकर भी उठा लेकिन बीसीसीआई के बीच-बचाव के बाद मामला आगे नहीं बढ़ा.


Read: Anil Kumble Profile


Tag: India, Virender Sehwag, World Twenty20 2012, cricket,Twenty20,ICC World Twenty20, Mahendra Singh Dhoni, Virender Sehwag, सहवाग, वीरेंदर सहवाग, भारतीय टीम, क्रिकेट टीम, धोनी, बीसीसीआई.




Tags:                             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

MR.SNJY KUMAR के द्वारा
December 26, 2014

veeru is my best and favourite and idel players. mujhe veeru ka khelane ka andaj sbse jyada pasand hai. or main mr. snjy kumar usi andaj me khelana pasand karta hu . or veeru ka favourite shot upper cut hi mera favourite shot hai. ye shot khelane me mujhe bahut aanand ata hai VEERU BHAI PIZ JALDI COME BACK KRO. apke bina cricket dekhne me maja hi nhi ata hai

rajinder thakur के द्वारा
December 1, 2013

i like virender sehwag . virender sehwag is my hero


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran