blogid : 7002 postid : 438

इस जीत पर फिक्सिंग का दाग तो लगना ही था !

Posted On: 7 Jan, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

india-pakistanजो पाकिस्तानी क्रिकेट टीम पिछले दो मैचों में उम्दा पदर्शन करने के बाद एक ऐसे स्कोर पर हार जाती है जिस पर शायद कोई कमजोर टीम भी हारना पसंद नहीं करती तो फिर विवाद तो होंगे ही. भारतीय टीम की पाकिस्तानी टीम पर 10 रन की जीत के बाद क्रिकेट के जानने वाले फिक्सिंग का आरोप लगाने लगे हैं.  उन्हीं में से एक खिलाड़ी इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर पॉल निक्सन हैं. निक्सन ने दावा किया है कि भारत-पाक के बीच रविवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर अंतिम वनडे मैच फिक्स था.


Read: ज्ञान के मंदिर में हवस का पुजारी


कोटला के मैदान पर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम 167 रन बनाकर ऑल आउट हो गई. लक्ष्य का पीछा करते हुए जब पाकिस्तान की आधी टीम आउट हो गई तब निक्सन ने ट्वीट किया कि मेहमान टीम जानबूझकर यह मैच हार रही है. इस मैच में पाकिस्तान ने 38 रन बनाकर आखिरी छह विकेट गंवा दिए और भारत 10 रन से मैच जीत गया.


ट्विटर पर जब निक्सन के एक फॉलोअर ने पूछा कि क्या आप यह कहना चाहते हैं कि मैच फिक्स है, तो उन्होंने ट्वीट किया, क्या आप मैच देख रहे हैं. यह मैच नहीं मजाक है. जब लेग स्लिप में फील्ड है, इसके बावजूद हफीज स्लिप में खेल रहे हैं, तो निश्चित रूप से यह भारत के 12वें खिलाड़ी बुकी का कमाल है. इंग्लैंड की तरफ से 19 वनडे और एक टी-20 मैच खेलने वाले 42 वर्षीय निक्सन ने कहा कि पाकिस्तान के लिए अंतिम मैच हारने से कोई फर्क नहीं पड़ रहा था, क्योंकि इसके बावजूद वे सीरीज 2-1 से जीत रहे थे.


अगर निक्सन की बात पर अमल किया जाए तो यह साफ पता संदेह होता है कि कैसे कोई जीतती हुई टीम हार सकती है. भारत ने जो पाकिस्तान के सामने लक्ष्य दिया था उसी समय यह कहा जाने लगा कि भारत मैच में वापसी नहीं कर सकता. ऐसा इसलिए क्योंकि भारत के पास वह धारधार गेंदबाजी नहीं थी जिसकी बदौलत वह पाकिस्तान को 167 रन पर समेट सके. अगर पाकिस्तान के सामने दक्षिण अफ्रीका और आस्ट्रेलिया जैसी टीम होती तब यह कहा जा सकता था कि यह जीत पक्की जीत है.


Read: जमीन खरीदने से पहले किन बातों का रखें ध्यान


एक बात और भारतीय टीम की पहचान अंतरराष्ट्रीय सतर पर बल्लेबाजी टीम के रूप में है. ऐसा कम ही मौका आया है जब भारत के गेंदबाजों ने करिश्मा कर दिखाया है. लेकिन पिछला जो मैच था इसको हम करिश्मा नहीं कह सकते. क्योंकि सीरीज के टेबल पर पाकिस्तान का प्रदर्शन अच्छा था. पाकिस्तानी टीम  अपने दोनों मैचों में शानदार प्रदर्शन करके भारत से 2-0 से आगे थी. उनके गेंदबाज तो धमाल कर ही रहे थे उनके बल्लेबाज भी बिना संघर्ष किए रन बना रहे थे. लेकिन पिछले मैच में जिस तरह पाकिस्तान के बल्लेबाजों ने बल्लेबाजी की ऐसा लगा जैसे बीसीसीआई ने अपनी टीम को क्लीन स्वीप से बचाने के लिए पाकिस्तानी बोर्ड को कुछ पैसे दे दिए हों.


Read:

कभी इस खिलाड़ी ने अजेय वेस्टइंडीज को हराना सिखाया था

संन्यास तो लेना ही था !

डंकन फ्लेचर के फेल होने का सफर


Tag: india-pakistan series, Indo-Pak series, Indo-Pak series in hindi, match, match fix cricket, delhi match, भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच, युवराज सिंह, धोनी, मैच फिक्सिंग




Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

AMIT KUMAR MITTAL के द्वारा
January 7, 2013

निश्चित तौर पे भारतीय टीम का प्रदर्शन निराशाजनक चल रहा है. और जब टीम लगातार गन्दा खेलती है तो चारो तरफ से निंदा चालू हो जाती है. खैर उन्हें अपना ध्यान विश्व कप पर रखकर खेलना होगा.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran