blogid : 7002 postid : 1376289

रंग बदलती रही है इंडियन क्रिकेट टीम की जर्सी, ऐसा रहा पीले रंग से ब्लीड ब्लू तक का सफर

Posted On: 23 Dec, 2017 Sports and Cricket में

Shilpi Singh

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सीमित ओवरों की क्रिकेट में रंगीन यूनिफॉर्म के चलन को शुरू हुए 30 साल से ज्यादा समय गुजर चुका है। भारतीय टीम ने भी इन सालों में नीली रंग की जर्सी के साथ कई बड़े टूर्नामेंटों में फतह हासिल की है। टीम इंडिया दुनिया भर में ‘मैन इन ब्लू’ के नाम से जानी जाती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है आखिर टीम इंडिया ब्लू कलर को ही जर्सी का रंग क्यों देती है।

coer jersey


1970 के दशक में वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट में भारतीय टीम ने फीके नीले रंग और पीली धारियों वाली जर्सी में नजर आई थी। इस जर्सी में आज की तरह बीसीसीआई का लोगो और टीम इंडिया का नाम नहीं लिखा होता था। इस दौरान टीमें विशेषरूप से इसी टूर्नामेंट में ही रंगीन ड्रेसों में नजर आईं और रंगीन ड्रेस पहनने का सिलसिला भी शुरू हुआ था।


images


1992 विश्व कप में पहली बार टीम इंडिया की जर्सी में इंडिया का नाम लिखा गया और इस टूर्नामेंट में जर्सी स्काई ब्लू की जगह डार्क ब्लू हो गई थी। कुछ जानकारों के मुताबिक 1980 वर्ल्ड सीरीज के दौरान भारतीय टीम ने चमकीले नीले(लाइट ब्लू) रंग को अपने प्राइमरी रंग व पीले रंग को सेकंडरी रंग के रूप में चुना। इसके बाद से भारतीय टीम ने लगातार इसी रंग को अपनी ड्रेस में तरजीह दी।


india


1999 विश्व कप में भी भारतीय टीम की यूनिफॉर्म में सेकंडरी कलर के रूप में पीले रंग का ही इस्तेमाल किया गया था। लेकिन 1990 के ही दशक में पीले रंग के साथ ट्राई कलर(तिरंगे के रंगों) को बदलने के कई प्रयोग किए गए। साल 2000 के बाद पीला रंग जर्सी में लिखे इंडिया नाम तक ही सीमित रह गया और 2007- 08 के बाद से पीला रंग भारतीय टीम की जर्सी से पूरी तरह से गायब हो गया।


10


1997 के पहले तक भारतीय टीम की जर्सी में बीसीसीआई का लोगो नहीं हुआ करता था। 1997 के समय तक जब बीसीसीआई थोड़ा मजबूत हुआ तो उसने पहली बार अपना लोगो भारतीय टीम की जर्सी में जोड़ा। भारतीय टीम की किट स्पॉन्सर कंपनी नाईक है। जिसने साल 2005 में किट के अधिकार 27.2 मिलियन डॉलर के करार के साथ बीसीसीआई से खरीदे थे।


jersy


नाईक ने अपने ब्लू कलर के साथ प्यार को जाहिर करते हुए बीसीसीआई के साथ मेगा कैंपेन ‘ब्लीड ब्लू’ भारतीय टीम के समर्थन के लिए साल 2011 विश्व कप के दौरान लॉन्च किया था। इस कैंपेन को बड़े स्तर पर सफलता मिली थी। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भले की खिलाड़ियों की ड्रेस सफेद कलर की होती है, लेकिन जब कभी भारतीय खिलाड़ी मैदान पर सन हैट लगाते हैं तो यह नीले रंग की होती है।…Next


Read More:

शादी से पहले धोनी की पत्नी की ऐसी थी लाइफस्टाइल, पब और पार्टी का था जबर्दस्त शौक

अपने ही रिश्तेदार को दिल दे बैठे थे सहवाग, प्यार को पाने के लिए किया इतने साल इंतजार

गंभीर की पत्नी हैं करोड़ों की मालकिन, ऐसी है इनकी लाइफस्टाइल



Tags:                         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran